Dec ०४, २०२३ ११:१४ Asia/Kolkata
  • ईरान को अमेरिका की कड़ी चेतावनी, इससे पहले देर हो जाए इस्राईल को रोक लो!

ईरान ने चेतावनी दी है कि अमेरिकी सरकार को ग़ज़्ज़ा पट्टी और वेस्ट बैंक में रहने वाले मज़लूम फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ अवैध आतंकी इस्राईली शासन के जघन्य अपराधों के खुले समर्थन के लिए परिणाम भुगतने होंगे।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान ने तेहरान दौरे पर आए ओमान के विदेश मंत्री बद्र बिन हमद अलबूसईदी के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में अमेरिका को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि इससे पहले देर हो जाए इस्राईल को रोक लो। ईरानी विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड जस्टिन के तेल अवीव के दौरे और इस्राईल के युद्ध कैबिनेट की बैठक में भाग लेने के बाद ज़ायोनी शासन ने नए जोश के साथ ग़ज़्ज़ा वासियों पर पाश्विक हमले किए हैं। अमीर अब्दुल्लाहियान ने कहा कि अमेरिकी अधिकारी सार्वजनिक रूप से इस्राईल से महिलाओं और बच्चों सहित आम नागरिकों की जान बचाने के लिए कह रहे हैं, लेकिन अंदर ही अंदर ग़ज़्ज़ा वासियों के भयानक नरसंहार को हरी झंडी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस्राईल के समर्थन में इस दोहरे व्यवहार के लिए अमेरिकी अधिकारियों को परिणाम भुगतने होंगे।

इस्लामी गणराज्य ईरान के विदेश मंत्री ने कहा कि अवैध आतंकी इस्राईली शासन की सेना ने पिछले दो दिनों में ग़ज़्ज़ा पट्टी में 800 महिलाओं और बच्चों को शहीद कर डाला है। उन्होंने कहा कि "हमें एक दिन पहले प्रतिरोध नेताओं से एक संदेश मिला कि अगर ग़ज़्ज़ा में नरसंहार जारी रहा, तो युद्ध पूरे पश्चिमी एशिया में फैल जाएगा और क्षेत्र एक संभावित नए अध्याय में प्रवेश करेगा।" इसलिए हम यह चेतावनी दे रहें हैं कि इससे पहले बहुत देर हो जाए इस नरसंहार को रोकने का आह्वान करते हैं। अमीर अब्दुल्लाहियान ने कहा कि अलअक़्सा तूफ़ान ऑपरेशन में प्रतिरोध आंदोलनों ने कुछ दस्तावेज़ ज़ब्त किए हैं जो दिखाते हैं कि अवैध आतंकी इस्राईली शासन सभी ग़ज़्ज़ा वासियों को मिस्र और सभी वेस्ट बैंक के फ़िलिस्तीनियों को जॉर्डन भेजने की योजना बना रहा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि मिस्र सरकार तेल अवीव की इस योजना को लागू नहीं होने देगी। संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में ओमान के विदेश मंत्री ने कहा कि उन्होंने ईरान के विदेश मंत्री से ग़ज़्ज़ा के हालात पर चर्चा की है। अलबूसईदी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को ग़ज़्ज़ा के लोगों के ख़िलाफ़ जारी नरसंहार को रोकने के लिए क़दम उठाना चाहिए। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें। 

टैग्स