Jun १९, २०२४ २२:४२ Asia/Kolkata
  • ईरान के ड्रोन विमानों और अन्य हथियारों के निर्यात में वृद्धि

इथियोपिया के लिए ईरानी ड्रोन का निर्यात, बग़दाद प्रदर्शनी में ईरान की रक्षा क्षमताओं का प्रदर्शन, नौसेना को मिलेंगे नए हथियार और उपकरण, ईरान और आज़रबाइजान का संयुक्त सैन्य अभ्यास और ईरान और रूस के बीच पांच सैन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन ईरान के सैन्य उद्योग की कुछ ताज़ा ख़बरें हैं।

पिछले चार दशकों में इस्लामी गणतंत्र ईरान ने सैन्य प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में निरंतर और प्रगतिशील क़दम उठाए हैं। हालिया दिनों में इथियोपियाई एयरबेस पर ईरानी मुहाजिर ड्रोन की प्रकाशित तस्वीरें, अफ़्रीक़ी महाद्वीप में ईरान के सैन्य हथियारों के निर्यात का पता दे रही हैं।

ईरान विश्व स्तर पर एक मज़बूत हथियार निर्यातक बनने की राह पर है और तेहरान ने दक्षिण अमेरिका से अफ्रीक़ा तक दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अपने ड्रोन विमानों का निर्यात तेज़ कर दिया है।

बग़दाद प्रदर्शनी में ईरानी ड्रोन और मिसाइलों का प्रदर्शन

बग़दाद में आयोजित होने वाली अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा प्रदर्शनी में ईरान समेत 22 देशों के सैन्य प्रतिनिधियों ने भाग लिया है।

इस प्रदर्शनी में, ईरान के रक्षा मंत्रालय ने ईरान के रक्षा उद्योग की विभिन्न उपलब्धियों को प्रदर्शित किया, जिसमें मुहाजिर यूएवी, लंबी दूरी का ग़ज़ा ड्रोन, देहलवियाह एंटी-आर्मर मिसाइलें, वायु रक्षा प्रणाली, अन्य हथियार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध में इस्तेमाल होने वाले उपकरण शामिल हैं।

जल्द ही नौसेना को मिलेंगे नए हथियार और उपकरण

ईरानी नौसेना के कमांडर एडमिरल शहराम ईरानी का कहना हैः जल्द ही हम समुद्री क्षेत्र में नए हथियार और उपकरण देखेंगे और सभी महासागरों में प्रभावी उपस्थिति भी हमारी प्राथमिकता में है।

एडमिरल ईरानी ने आगे कहाः नौसेना को उन्नत ड्रोन विमान प्राप्त हुए हैं, जिससे ड्रोन के क्षेत्र में ईरानी नौसेना की युद्धक क्षमता में वृद्धि हुई है।

ईरान और आज़रबाइजान गणराज्य के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास

ईरानी थल सेना के डिप्टी कमांडर करीम चेशक का कहना हैः आतंकवाद से निपटने और अरास बांध की स्थिर सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विशेष बलों की एक बटालियन के स्तर पर पश्चिम आज़रबाइजान प्रांत में ईरान और आज़रबाइजान के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास किया गया है।

ईरान और रूस के बीच पांच सैन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन

इस्लामिक रिवोल्यूशन गार्ड्स कॉर्प्स की ग्राउंड फ़ोर्सेज़ के कमांडर जनरल मेहदी सरवर का कहना है कि ईरान और रूस के सशस्त्र बलों के बीच पांच सैन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन कि गया है।

जनरल सरवर ने बतायाः अगला शिविर निकट भविष्य में इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ़ ईरान के सशस्त्र बलों की चयनित टीम और रूसी संघ की चयनित टीम की उपस्थिति के साथ रूस में आयोजित किया जाएगा।

ईरान के रक्षा उत्पादों के निर्यात में वृद्धि

ईरान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता जनरल तलाई नीक के मुताबिक़, पिछले वर्ष की तुलना में रक्षा उत्पादों के निर्यात में इस वर्ष 50 फ़ीसद की वृद्धि का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

जनरल तलाई नीक का कहना थाः सर्वोच्च कमांडर-इन-चीफ़ के मार्गदर्शन और बुद्धिमानी उपायों से रक्षा मंत्रालय ने रक्षा उत्पादों के उत्पादन को बढ़ाने, निर्यात में वृद्धि करने और ज़रूरतों को पूरा करने के लिए अपने मिशन के अनुरूप बड़े क़दम उठाए हैं।

डिएगो गार्सिया द्वीप के पास आईआरजीसी के बैलिस्टिक मिसाइलों से लैस युद्धपोत की मौजूदगी

इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स की नेवी के कमांडर एडमिरल अलीरज़ा तंगसीरी का कहना है कि शहीद महदवी युद्धपोत पहली बार डिएगो गार्सिया द्वीप के पास पहुंचा है, जहां अमरीकी सेना तैनात है।

उन्होंने कहाः इस मिशन में, शहीद महदवी युद्धपोत दुनिया के महत्वपूर्ण और रणनीतिक जल मार्गों से गुज़रा और भूमध्य रेखा को पार करके अमरीका के 5वें बेड़े के नियंत्रण वाले क्षेत्र के निकट पहुंच गया है। msm

टैग्स